Home Suvachar सुविचार / suvichar in hindi image 477 – suprabhat suvichar

सुविचार / suvichar in hindi image 477 – suprabhat suvichar

6 second read
0
0
340
सुविचार / suvichar in hindi image 477 – suprabhat suvichar

सुप्रभात

आज का विचार

suvichar in hindi image – suprabhat suvichar

आज का विचार के इस वैज्ञानिक युग में अध्यात्म के कुछ वाक्य हमारे जीवन में बहुत बड़ा बदलाव ला सकते हैं।

  • माना कि वक्त सता रहा है
    मगर कैसे जीना है
    वो भी बता रहा है
  • जिंदगी ऐसी ना जियो…
    कि लोग फरियाद करे,
    बल्की ऐसी जियो…
    कि लोग तुम्हे फिर-याद करे । good-morning-hindi-2
  • जीवन का सबसे
    बड़ा गुरु समय होता है,
    क्योंकि जो समय
    सिखा सकता है
    वो कोई नहीं सिखा
    सकता ।
  • कमाल का ताना
    दिया आज
    मंदिर में भगवान ने,
    मांगने ही आते हो कभी
    मिलने भी आया करो ।
  • किसी ने पूछा इस दुनिया में
    आपका अपना कौन है….
    मैंने हंसकर कहा – समय
    अगर वो सही, तो सभी अपने,
    वरना कोई नहीं ।
  • जिंदगी में सब कुछ छोड़ देना,
    लेकिन
    मुस्कराना और उम्मीद
    कभी मत छोड़ना ।
  • देर लगेगी मगर सही होगा ।
    तुम्हे जो चाहिये ना वही होगा ।
    दिन बुरे जरूर है, जिदंगी नहीं,
    सबर रख, सब होगा ।
  • कभी मायूस मत होना
    मेरे दोस्त,
    जिंदगी कहीं से भी अचानक
    अच्छा मोड़ ले सकती है ।
  • हर काम को तीन
    अवस्थाओं से गुजरना होता है –
    उपहास
    विरोध
    स्वीकृति
  • अकेले
    लड़ी जाती है जिंदगी की लड़ाई,
    लोग यहां तसल्ली देते हैं
    सहारा नहीं….
  • जल तो है असली सोना
    इसको तुम कभी ना खोना
    वरना पड़ेगा बहुत रोना ।
  • धर्म पूर्वक ईमानदारी से
    धन कमाने वालों के शौक
    भले ही पूरे ना हो पर नींद
    जरूर पूरी होती है ।
  • अपने जीवन में इतने खुश रहो की
    अगर दुसरे भी आपको देखे
    तो वो भी खुश हो जाएं ।
  • ले चल उसी
    बचपन
    में जहां
    ना कोई जरूरी था
    ना कोई जरूरत थी ।good-morning-hindi-2
Load More Related Articles
Load More By ebig24blog
Load More In Suvachar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

सुविचार / suvichar in hindi image 500 – suprabhat suvichar

सुप्रभात आज का विचार suvichar in hindi image – suprabhat suvichar आज का विचार के इस वैज्ञा…