Home Santo Ki Vani भगवान महावीर की वाणी / bhagwan mahiver ji ki vani -mahavir ji ke vachan

भगवान महावीर की वाणी / bhagwan mahiver ji ki vani -mahavir ji ke vachan

12 second read
0
0
125
भगवान महावीर की वाणी / bhagwan mahiver ji ki vani -mahavir ji ke vachan

सन्तो की वाणी

भगवान महावीर की वाणी

bhagwan mahiver ji ki vani -mahavir ji ke vachan

सन्तो की वाणी में आपको भारत के सन्त और महापुरूषों के मुख कही हुवी व लिखे हुवे प्रवचनों की कुछ झलकियां आपके सामने रखेंगे । आप इसे ग्रहण कर आगे भी शेयर करें जिससे आप भी पुण्य के भागीदार बने ।

आहार अथवा विहार में देश, काल, श्रम, अपनी सामर्थ्य तथा उपाधि को जानकर श्रमण यदि बरतता है, तो वह अल्पलेपी होता है अर्थात उसे अल्प ही बन्ध होता है। mahiver-ji-vani

ज्ञातपुत्र भगवान महावीर ने (वस्तुगत) परिग्रह को परिग्रह नहीं कहा है। उन महर्षि ने मूर्च्छा को ही परिग्रह कहा है।

साधु लेशमात्र भी संग्रह न करे। पक्षी की तरह संग्रह से निरपेक्ष रहते हुए केवल संयमोपकरण के साथ विचरण करे।

जैसे अध्यात्म (शास्त्र) में मूर्च्छा को ही परिग्रह कहा गया है, वैसे ही उसमें प्रमाद को हिंसा कहा गया है।

यतनाचार (विवेक या उपयोग) पूर्वक चलने, यतनाचारपूर्वक रहने, यतनाचारपूर्वक बैठने, यतनाचारपूर्वक सोने, यतनाचारपूर्वक खाने और यतनाचारपूर्वक बोलने से साधु को पांप-कर्म का बन्ध नहीं होता ।

गमन करते समय इस बात की भी पूरी सावधानी रखनी चाहिए, कि नाना प्रकार के जीव-जन्तु, पशु-पक्षी आदि इधर-उदर से चारे-दाने के लिये मार्ग में इकट्ठा हो गए हां, तो उनके सामने भी नहीं जाना चाहिए, ताकि वे भयग्रस्त न हों ।

(भाषा-समिति परायण साधु) किसी के पूछने पर भी अपने लिए, अन्य के लिए या दोनों के लिए न तो सावद्य अर्थात पापवचन बोले, न निरर्थक वचन बोले और न मर्मेभेदी वचन का प्रयोग करे।

तथा कठोर और प्राणियों का घात करने वाली चोट पहुँचाने वाली भाषा भी न बोले, ऐसा सत्य -वचन भी न बोले, जिससे पाप का बन्ध होता हो।

इसी प्रकार काने को काना, नपुंसक का नपुंसक, व्याधिग्रस्त को रोगी और चोर को चोर भी न कहे। mahiver-ji-vani

Load More Related Articles
Load More By ebig24blog
Load More In Santo Ki Vani

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

शिव पूजन / shiv puja vidhi – shiv puja mantra in hindi

शिव पूजन shiv puja vidhi – shiv puja mantra in hindi भगवान शिव की पूजा करते समय सर्व…