Home Suvachar सुविचार / suvichar in hindi image 486 – suprabhat suvichar

सुविचार / suvichar in hindi image 486 – suprabhat suvichar

6 second read
0
1
225
सुविचार / suvichar in hindi image 486 – suprabhat suvichar

सुप्रभात

आज का विचार

suvichar in hindi image – suprabhat suvichar

आज का विचार के इस वैज्ञानिक युग में अध्यात्म के कुछ वाक्य हमारे जीवन में बहुत बड़ा बदलाव ला सकते हैं।

  • अगर जिंदगी में
    कुछ पाना हो,
    तो तरीके बदलो
    इरादे नहीं… suvichar-suprabhat-image-3
  • परिवार व्यक्ति का वह
    सुरक्षा कवच है
    जिसमें रहकर
    व्यक्ति सुख शांति का
    अनुभव करता है ।
  • दिल खोल कर इन
    लम्हों को जी लो यारों
    जिंदगी अपना इतिहास
    फिर नहीं दोहाएगी..
  • आंखे कितनी भी छोटी
    क्यु न हो,
    ताकत तो उसमे सारे
    आसमान देखने की होती है ।
  • एक फल के पीछे लाखों
    जड़ों की मेहनत छिपी
    होती है ।
  • गलत तरीके अपनाकर सफल
    होने से यही बेहतर है,
    सही तरीके के साथ काम
    करने असफल होना ।
  • खाने के लिए दुनिया भर की
    चीजें होते हुए भी….
    उपवास शरीर के लिए
    सबसे बेहतर है ।
  • ढल जाती है हर चीज अपने वक्त पर,
    बस एक व्यवहार और लगाव ही है,
    जो कभी बुढ़ा नहीं होता ।
  • माना कि वक्त सता रहा है
    मगर कैसे जीना है
    वो भी बता रहा है
  • जिंदगी ऐसी ना जियो…
    कि लोग फरियाद करे,
    बल्की ऐसी जियो…
    कि लोग तुम्हे फिर-याद करे ।
  • जीवन का सबसे
    बड़ा गुरु समय होता है,
    क्योंकि जो समय
    सिखा सकता है
    वो कोई नहीं सिखा
    सकता ।
  • कमाल का ताना
    दिया आज
    मंदिर में भगवान ने,
    मांगने ही आते हो कभी
    मिलने भी आया करो ।
  • किसी ने पूछा इस दुनिया में
    आपका अपना कौन है….
    मैंने हंसकर कहा – समय
    अगर वो सही, तो सभी अपने,
    वरना कोई नहीं ।
  • जिंदगी में सब कुछ छोड़ देना,
    लेकिन
    मुस्कराना और उम्मीद
    कभी मत छोड़ना । suvichar-suprabhat-image-3
Load More Related Articles
Load More By ebig24blog
Load More In Suvachar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

सुविचार / suvichar in hindi image 518 – suprabhat suvichar

सुप्रभात आज का विचार suvichar in hindi image – suprabhat suvichar आज का विचार के इस वैज्ञा…